एक कमरे जीतनी जगह से कर शकते है लाखो रूपए की कमाई जाने तरीका

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
3.3/5 - (3 votes)
Mushroom Ki Kheti Kab Aur Kaise Ki Jati Hai

मशरूम की खेती कब और कैसे की जाती है? (Mushroom Ki Kheti Kab Aur Kaise Ki Jati Hai) : हमारे देश भारत में भी आज कल मशरूम की डिमांड बहुत तेजी से बढ़ रही है। पहले तो यह मशरूम की मांग बड़ी होटल में और शहर में ही थी पर आज कल छोटे गांव से लेकर बड़े बड़े शरह तक है।

मशरूम खाने में बड़ा स्वादिष्ट होता है और महंगा भी होता है इस लिए आप अपने घर पर ही मशरूम की खेती कर के बड़ी आसानी से खा शकते है और अधिक उत्पादन होने से बड़ी होटल और शहर में बेच भी शकते है। इन की खेती करना भी बड़ा आसान है। मशरूम की खेती में खर्च कम और मुनाफा अधिक है।

मशरूम की मांग अधिक और पुरे साल भर रहने से इन की खेती की तरफ कई कोलो का ध्यान बढ़ा है और इन की अधिक मांग की कारन ही इन के भाव अधिक मिलता है और लाखों रूपए की कमाई होती है। मशरूम की खेती करनी बड़ी आसान है आज के इस ikhedutputra.Com के इस आर्टिकल के माध्यम से हम मशरूम की खेती कैसे और कब करें और इन की खेती से होने वाला लाखो रूपए की कमाई इन सभी बाते पर विस्तार से जानेंगे इस लिए आप हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक बने रहे।

मशरूम की खेती कब और कैसे की जाती है? (Mushroom Ki Kheti Kab Aur Kaise Ki Jati Hai)

मशरूम की खेती आप पुरे साल में किसी भी समय कर शकते है बस इन में आप को अनुकूल तापमान 25℃ से 30℃ तक का और आद्र्रता 75 से 90 प्रतिशत तक होनी चाहिए। ऑयस्टर मशरूम को उगने के लिए गेहूं और धान के भूसे और दानों की जरूरत होती है। और यह मशरूम तक़रीबन 2.5 से लेकर 3 महीने में तैयार हो जाता है। हमारे देश भारत में मशरूम की टॉप 4 किस्म की खेती की जाती है।

मशरूम की टॉप 4 किस्म

मशरूम की उन्नत 4 किस्म जो अधिक लोकप्रिय है। इन में ढिंगरी मशरूम, बटन मशरूम, दूधिया मशरूम, पैडीस्ट्रा मशरूम, शिटाके मशरूम, और मिल्की मशरूम इन में से अधिक डिमांड वाला बटन मशरूम है। इन की बाजारी मांग अधिक होती है। इसी लिए इन की खेती अधिक की जाती है और इस बटन मशरूम की खेती ठंड के मौसम में अधिक की जाती है।

मशरूम की खेती करने के लिए आप को मिट्टी की भी जरूरत नहीं होती है। मशरूम की खेती करने के लिए आप को ब्लेक प्लास्टिक के बेंग और कम्पोष्ट खाद, गेहूं और धान का भूसा की जरूरत होती है। आप मशरूम की खेती करने के लिए शेड तैयार करना है या तो घर के अंदर भी मशरूम की खेती कर शकते है।

बटन मशरूम उगाने के लिए क्या सामग्री चाहिए?

अगर आप बटन मशरूम की खेती करना चाहते है तो आप को कुछ सामग्री की जरूरत होगी। इन में आप को कंपोस्ट खाद की होती है जरूरत इन के अलावा गेहूं या तो धान के भूसे की होगी जरूरत, इन के अलावा आप पराली और सरसों के भूसे का भी इस्तेमाल कर शकते है। इन के अलावा मुर्गी की बीट का भी इस्तेमाल कर शकते है। और अमोनियम, नाट्रोजन और कैल्शियम का भी इस्तेमाल करना है।

बटन मशरूम के बीज को स्पान के नाम से भी जानते है। बीज अच्छी गुणवत्ता वाला है तो उत्पादन अच्छा ही प्राप्त होता है। इस लिए जब भी इन के बीज की खरीदी करें तब इस बात का भी ध्यान रहे की बीज एक महीना पुराण है तो अच्छा पर इन से अधिक पुराण बीज से उत्पादन बहुत कम प्राप्त होता है। इस लिए जब भी आप मशरूम के बीज की खरीदी करे तब आप को किसी भरोसेमंद दुकास से ही बीज खरीदना है। तब अच्छा उत्पादन और अधिक कमाई होगी।

मशरूम की खेती से कमाई

मशरूम की खेती करने के लिए आप को किसी खेत की जरूरत नहीं होती है इन की खेती आप एक कमरे में या तो शेड तैयार कर के कर शकते है। मशरूम की खेती में लागत कम और मुनाफा अधिक होता है। अगर आप ने एक कमरे जितनी जगह पर मशरूम की खेती की है तो आप को एक साल में 3.5 से लेकर 4 लाख रूपए तक की कमाई बड़ी आसानी से हो जाती है। और मशरूम की खेती एक साल करने में खर्च 55 से 60 हजार का ही होता फिर भी कमाई अधिक होती है।

अन्य भी पढ़े :

आज के इस आर्टिकल में हम ने आप को मशरूम की खेती कब और कैसे की जाती है? (Mushroom Ki Kheti Kab Aur Kaise Ki Jati Hai) इन के बारे में अच्छी जानकारी बताई है। यह आर्टिकल आप को सेम की खेती के लिए बहुत हेल्फ फूल होगा और यह आर्टिकल आप को पसंद भी आया होगा ऐसी हम उम्मीद रखते है। और इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा किसान भाई और अपने मित्रो को शेयर करे।

हमारे इस ब्लॉग ikhedutputra.com पर हर हमेेश किसान को खेती की विविध फसल के उन्नत बीज से लेकर उत्पादन और इन से होने वाली कमाई और मुनाफा तक की सारी बात बताई जाती है। इन के अलावा जो किसान के हित में सरकार की तरफ से चलाई जाने वाली विविध योजना और खेती के नई तौर तरीके के बारे में भी बहुत कुछ जानने को मिलेगा।

इन सब की मदद से किसान खेतीबाड़ी से अच्छी इनकम कर सकता है। इस लिया आप हमारी यह वेबसाईट आईखेडूतपुत्रा को सब्सक्राब करे ताकि आप को अपने मोबाईल में रोजाना नई आर्टिकल की नोटिफिकेशन मिलती रहे। इस आर्टिकल के अंत तक हमारे साथ बने रहने के लिए आप का बहुत बहुत धन्यवाद।

इस लेख को किसान के साथ शेयर करे...

नमस्कार किसान मित्रो, में Mavji Shekh आपका “iKhedutPutra” ब्लॉग पर तहेदिल से स्वागत करता हूँ। मैं अपने बारे में बताऊ तो मैंने अपना ग्रेजुएशन B.SC Agri में जूनागढ़ गुजरात से पूरा किया है। फ़िलहाल में अपना काम फार्मिंग के साथ साथ एग्रीकल्चर ब्लॉग पर किसानो को हेल्पफुल कंटेंट लिखता हु।

Leave a Comment

buttom-ads (1)