भारत में कौन कौन से आम पाए जाते है और सब से स्वादिष्ट आम कौन सा है जाने पूरी डिटेल

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
5/5 - (1 vote)
Aam Ki Kism Aur Vividhata

आम की किस्में और विविधता (Aam Ki Kism Aur Vividhata)

आम की किस्में और विविधता (Aam Ki Kism Aur Vividhata) : हमारे देश भारत में अलग अलग विस्तार में आम की कई सारी उन्नत किस्में की खेती किसान करते है और अच्छा उत्पादन के साथ अधिक कमाई भी होती है। पर कुछ कुदरती आपदा के कारण आम की बागवानी में किसान को बड़ा नुकसान भी होती है। जैसे की आंधी तूफान बेमौसम बारिश इन के कारण आम के कच्छे फल पेड़ से टूट के जमीन पर गिर जाते है और किसान को बड़ा नुकसान भुगतना पड़ता है।

इस साल भी आंधी तूफान के कारण आम की बागवानी में बहुत कम फल प्राप्त हुए है और मार्केट में भी आम बहुत महंगा मिल रहा है। आम को फलों का राजा माना जाता है। और देश के विविध राज्य में विविध मिट्टी और जलवायु के हिसाब से अलग अलग आम की उन्नत किस्म की बागवानी किसान करते है। और हमारे देश में आम की 1000 से अधिक अलग अलग किस्म मोजूद है।

आज के इस ikhedutputra.Com के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आम की अलग अलग किस्म और इन की खासियत क्या है और इन की कीमत सभी पर विस्तार से जानकारी प्राप्त करेंगे इस लिए आप इस आर्टिकल के अंत तक हमारे साथ बने रहे।

हमारे देश में आम की कई सारी उन्नत किस्में पाए जाती है इन में से कुछ किस्म के बारे के हम बात करेंगे जो अधिक लोकप्रिय है और स्वाद भी इन का सब से अच्छा है। और इन को अलग अलग प्रकार से खाया जाता है।

आम की किस्में और विविधता (Aam Ki Kism Aur Vividhata)

हमारे देश भारत में आम की 1000 से अधिक उन्नत किस्में मोजूद है और यह सब किस्में विविध मिट्टी और जलवायु के हिसाब से अधिक उत्पादन और अलग अलग स्वाद की है। जैसे की दशहरी आम, केसर आम, लंगड़ा आम, अल्फांसो (हापुस) आम, मलगोवा आम, तोतापुरी आम, चौसा आम, सुंदरी आम, बैंगनपल्ली आम, आदि आम की उन्नत किस्में है पर हम इस किस्में के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे।

दशहरी आम : आम की यह उन्नत किस्म की बागवानी हमारे देश के उतर प्रदेश राज्य में अधिक विस्तार में किसान भवानी करते है। इन में से महिलाबाद के विस्तार में आम की यह किस्में की खेती अधिक की जाती है। और यह आम के फल मई महीने से जून महीने तक मिलते है। यह खाने में बड़ा स्वादिष्ट होता है और रस और गुंदा से इन के फल भरपूर होता है।

केसर आम : आम की यह उन्नत किस्में गुजरात राज्य के जूनागढ़ जिले और अमरेली जिले में अधिक विस्तार में पाए जाते है। आम का यह फल बड़ा स्वादिष्ट और खुशबू केसर जैसी आती है। इस लिए तो केसर आम के नाम से जाना जाता है। यह गुजरात के सौराष्ट्र में मई महीने से जून महीने तक मिलता है। आम के इस फल का गूंदा नारंगी रंग का और खुश्बूदार होता है।

लंगड़ा आम : आम की यह उन्नत किस्में भी हमारे देश के उतर प्रदेश राज्य में पाए जाती है। यह वाराणसी विस्तार में अधिक आम की यह किस्में की बागवानी किसान करते है। यह जून महीने से जुलाई महीने तक इन के फल प्राप्त होते है। इन के फल का गूंदा पीले रंग का और स्वाद में बड़ा स्वादिष्ट होता है।

अल्फांसो (हापुस) आम : आम की यह उन्नत किस्में के फल को आम का राजा कहा जाता है। और इन की बागवानी हमारे deshke महाराष्ट्र राज्य के रत्नागिरी में अधिक विस्तार में की जाति है। इन के फल अप्रैल महीने से जून महीने तक मिलता है। इन के फल में मोजूद गूंदा अत्यंत मीठा और सुनहरा पीले रंग का होता है।

मलगोवा आम : आम की यह उन्नत किस्में की बागवानी हमारे देश भारत के दक्षिण में पीए जाता है। इन का फल बड़े आकार और अधिक स्वादिष्ट होते है। इन की बागवानी कर्नाटक और तमिलनाडु राज्य में अधिक होती है। और इन के फल मई महीने से जुलाई महीने तक मिलते है। इन के फल में मोजूद गूंदा पीला रंग का और रसीला होता है।

तोतापुरी आम : आम की यह उन्नत किस्में की बागवानी हमारे देश के आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में पाए जाती है। इन के फल माई महीने से जुलाई महीने तक मिलते है। इन के फल का स्वाद खट्टा मीठा होता है। इन का अधिक इस्तेमाल अचार बनाने के लिए किया जाता है।

अन्य भी पढ़े :

आज के इस आर्टिकल में हम ने आप को आम की किस्में और विविधता (Aam Ki Kism Aur Vividhata) इन के बारे में अच्छी जानकारी बताई है। यह आर्टिकल आप को सेम की खेती के लिए बहुत हेल्फ फूल होगा और यह आर्टिकल आप को पसंद भी आया होगा ऐसी हम उम्मीद रखते है। और इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा किसान भाई और अपने मित्रो को शेयर करे।

हमारे इस ब्लॉग ikhedutputra.com पर हर हमेेश किसान को खेती की विविध फसल के उन्नत बीज से लेकर उत्पादन और इन से होने वाली कमाई और मुनाफा तक की सारी बात बताई जाती है। इन के अलावा जो किसान के हित में सरकार की तरफ से चलाई जाने वाली विविध योजना और खेती के नई तौर तरीके के बारे में भी बहुत कुछ जानने को मिलेगा।

इन सब की मदद से किसान खेतीबाड़ी से अच्छी इनकम कर सकता है। इस लिया आप हमारी यह वेबसाईट आईखेडूतपुत्रा को सब्सक्राब करे ताकि आप को अपने मोबाईल में रोजाना नई आर्टिकल की नोटिफिकेशन मिलती रहे। इस आर्टिकल के अंत तक हमारे साथ बने रहने के लिए आप का बहुत बहुत धन्यवाद।

इस लेख को किसान के साथ शेयर करे...

नमस्कार किसान मित्रो, में Mavji Shekh आपका “iKhedutPutra” ब्लॉग पर तहेदिल से स्वागत करता हूँ। मैं अपने बारे में बताऊ तो मैंने अपना ग्रेजुएशन B.SC Agri में जूनागढ़ गुजरात से पूरा किया है। फ़िलहाल में अपना काम फार्मिंग के साथ साथ एग्रीकल्चर ब्लॉग पर किसानो को हेल्पफुल कंटेंट लिखता हु।

Leave a Comment

buttom-ads (1)