बाजरे की टॉप 3 उन्नत किस्में जो कम लागत में अधिक पैदावार

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Rate this post
Bajre Ki Sabse Achhi Kisme Konsi Hai

बाजरे की सबसे अच्छी किस्म कौन सी है? (Bajre Ki Sabse Achhi Kisme Konsi Hai) : बाजरे की फसल को खरीफ मौसम की मख्य फसल के नाम से भी जाना जाता है। इन की उन्नत किस्में के बीज की बुवाई सिंचाई वाले विस्तार में किसान 15 जून के बाद कर देते है। और जीस किसान को सिंचाई की व्यवस्था नहीं है यह सब किसान बाजरे के बीज पहली बारिश या तो दूसरी बारिश हो जाने के बाद कर देते है। बाजरे की खेती हमारे देश भारत के राजस्थान राज्य में होती है।

बाजरे की खेती राजस्थान के आलावा गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, कर्नाटक, मान्ध्रप्रदेश, तमिलनाडु आदि राज्य में किसान बाजरे की खेती करते है। बाजरे की फसल से कम लागत में अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिए आप को बाजरे की उन्नत किस्में के बीज की बुवाई करनी है। और बाजरे के बीज की बुवाई बारिश के दिनों में करने से उत्पादन अधिक प्राप्त होता है। ऐसा नहीं है कई बार अधिक बारिश के कारण भी बाजरे की फसल बर्बाद हो जाती है। इस लिए बाजरे की खेती आप जुलाई महीने के पहले सप्ताह में करें यह समय बाजरे की खेती के लिए सब से सही है।

आज के इस ikhedutputra.Com इस आर्टिकल के माध्यम से हम जानेंगे की बाजरे की सबसे अच्छी किस्म कौन सी है? (Bajre Ki Sabse Achhi Kisme Konsi Hai) और इन का उत्पादन कितना प्राप्त होता है। इन सभी बाटे पर विस्तार से जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक बने रहे।

बाजरे की सबसे अच्छी किस्म कौन सी है? (Bajre Ki Sabse Achhi Kisme Konsi Hai)

बाजरे की खेती कम पानी और कम लागत में अधिक उत्पादन देने वाली खेती है। बाजरे की फसल अधिक तापमान को भी सहजता से सहन कर शक्ति है। इन की खेती कई किसान तो जुलाई महीने में और सितंबर महीने में भी करते है। और हमारे देश के दक्षिण विस्तार में बाजरे की खेती रबी सीजन में अक्टूबर और नवंबर महीने में भी की जाती है।

बाजरे की टॉप 3 किस्में जो पैदावार में रिकॉडतोड़ देती है।

बाजरे की उन्नत किस्में विविध राज्यों के तापमान और जलवायु के हिसाब से तैयार की गई है। इन में से बाजरा किस्म पूसा कंपोजिट 701​ (Millet variety Pusa Composite 701​), बाजरा किस्म एमपीएमएच -17 (Millet Variety MPMH -17), बाजरा किस्म आरए चबी- 177 (Millet Variety RA Chbi – 177) इन तीनो किस्में अधिक उत्पादन के लिए जानी जाती है आई ऐ जानते है इन की खासियत के बारे में विस्तार से।

बाजरा किस्म पूसा कंपोजिट 701​ (Millet variety Pusa Composite 701​)

बाजरे की यह उन्नत किस्म के बीज मुख्य खेत में बुवाई के बाद 80 से 85 दिन में अच्छे से पक के तैयार हो जाती है। अगर बाजरे की यह उन्नत किस्में की बुवाई आप ने एक हैक्टर जमीन में की है तो 35 से 40 क्विंटल तक का उत्पादन प्राप्त होता है। इन की खासियत यही है की इस में मृदु रोमिल और असिता रोग नहीं लगती है। इन की बुवाई हमारे देश के राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, पंजाब, दिल्ली आदि राज्य में किसान करते है।

बाजरा किस्म एमपीएमएच -17 (Millet Variety MPMH -17)

बाजरे की यह उन्नत किस्म के बीज की बुवाई हमारे देश के राजस्थान राज्य के सूखाग्रस्त विस्तार में अधिक होती है। इन के दाने पीले और भूरे रंग का होता है। और गोल आकर के होते है। बाजरे की यह उन्नत किस्म के बीज मुख्य खेत में बुवाई के बाद 80 से 85 दिन में अच्छे से पक के कटाई के लिए तैयार हो जाती है। और एक हैक्टर के हिसाब से 25 से 30 क्विंटल तक का उत्पादन देती है।

बाजरा किस्म आरए चबी- 177 (Millet Variety RA Chbi – 177)

बाजरे की यह उन्नत किस्म कप कृषि अनुसंधान केंद्र दुर्गापुरा, जयपुर ने इस संकर किस्म को तैयार की है। यह किस्म अधिक फुटाव वाली और इन के पौधे की उचाई 150 से 160 सैमी तक की होती है। इन के सिट्टो की लंबाई 22 से 23 सैमी तक की होती है। और बुवाई के बाद 75 से 80 दिन में अच्छे से पक के कटाई के लिए तैयार हो जाती है। और इन के उत्पादन की बात करें तो एक हैक्टर के हिसाब से 20 से 25 क्विंटल तक की होती है। और सूखे चारे की बात करें तो 40 क्विंटल तक प्राप्त होता है। इन का दाना हल्का भूरा और गोल आकर का होता है। यह बाजरे की उन्नत किस्म शुष्क जलवायु में अच्छे से वृद्धि करती है।

खास नोध : बाजरे की उन्नत किस्में के बीज की बुवाई करने से पहले आप अपने विस्तार के हिसाब से बीज की पसंदगी करें।

अन्य भी पढ़े :

आज के इस आर्टिकल में हम ने आप को बाजरे की सबसे अच्छी किस्म कौन सी है? (Bajre Ki Sabse Achhi Kisme Konsi Hai) इन के बारे में अच्छी जानकारी बताई है। कम लागत में अधिक मुनाफा यह आर्टिकल आप को सेम की खेती के लिए बहुत हेल्फ फूल होगा और यह आर्टिकल आप को पसंद भी आया होगा ऐसी हम उम्मीद रखते है। और इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा किसान भाई और अपने मित्रो को शेयर करे।

हमारे इस ब्लॉग ikhedutputra.com पर हर हमेेश किसान को खेती की विविध फसल के उन्नत बीज से लेकर उत्पादन और इन से होने वाली कमाई और मुनाफा तक की सारी बात बताई जाती है। इन के अलावा जो किसान के हित में सरकार की तरफ से चलाई जाने वाली विविध योजना और खेती के नई तौर तरीके के बारे में भी बहुत कुछ जानने को मिलेगा।

इन सब की मदद से किसान खेतीबाड़ी से अच्छी इनकम कर सकता है। इस लिया आप हमारी यह वेबसाईट आईखेडूतपुत्रा को सब्सक्राब करे ताकि आप को अपने मोबाईल में रोजाना नई आर्टिकल की नोटिफिकेशन मिलती रहे। इस आर्टिकल के अंत तक हमारे साथ बने रहने के लिए आप का बहुत बहुत धन्यवाद।

इस लेख को किसान के साथ शेयर करे...

नमस्कार किसान मित्रो, में Mavji Shekh आपका “iKhedutPutra” ब्लॉग पर तहेदिल से स्वागत करता हूँ। मैं अपने बारे में बताऊ तो मैंने अपना ग्रेजुएशन B.SC Agri में जूनागढ़ गुजरात से पूरा किया है। फ़िलहाल में अपना काम फार्मिंग के साथ साथ एग्रीकल्चर ब्लॉग पर किसानो को हेल्पफुल कंटेंट लिखता हु।

Leave a Comment